पातालकोट में बीजों की रिश्तेदारी (in Hindi)

दहिया खेती पोष्टिक अनाज के साथ खाद्य सुरक्षा भी करेगी, जैव विविधता भी बचाएगी।

नियमगिरी के आदिवासियों की खेती (in Hindi)

खाद्य सुरक्षा, जैव विविधता, मौसम बदलाव और पऱ्यावरणीय दृष्टि से भी इसका महत्व आज बढ गया है। On Jhum agriculture around Niyamgiri

Sustainable form of Jhum cultivation in Khonoma

Unlike the more popular 'slash and burn' form of jhum cultivation, here the trees are not felled but pollarded at a certain height.

Stories by Location
Google Map
Events